शुक्रवार, 26 जनवरी 2018

Know, What Is Bitcoin? (In Hindi)

जानिए, बिटकॉइन क्या है?  
Know, What Is Bitcoin ? (In Hindi) 

  नमस्कार दोस्तों, आप सभी पाठकों का मेरे इस साइट Hindi Tech Nature में स्वागत् है. आजकल लोगों के बीच बिटकॉइन चर्चा का विषय बना हुआ है. कारोबारियों / व्यापारियों में बिटकॉइन से लेनदेन का चलन पूरी दुनिया में तेजी से लोकप्रिय हो रहा है. हाल ही में इसकी कीमतों में अभूतपूर्व बढ़ोत्तरी देखी गई है. तो मेरे आज के इस पोस्ट में जानेंगे कि बिटकॉइन क्या है? इसे कैसे ऊपयोग करते हैं? और इसकी कार्य प्रणाली क्या है? तो चलिए जानते हैं... 
 
Know-what-is-bitcoin.
Know, What Is Bitcoin? (In Hindi)

बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी (Vertual Currency) है. इसे क्रिप्टो करेंसी (Crypto Currency) भी कहते हैं. इसे हम डिजिटल युग की डिजिटल करेंसी (Digital Currency) या ई-मुद्रा भी कह सकते हैं।

  Bitcoin एक वर्चुअल (Virtual) यानि की आभासी मुद्रा है. आभासी मतलब की अन्य मुद्रा की तरह इसका कोई भौतिक स्वरूप नहीं है. यह किसी तरह का नोट या सिक्का (Coin) नहीं है. इसे आप अपनी जेब (Pocket) में नहीं रख सकते. इसे अपने घर या Wallet में नहीं रख सकते हैं. इसे हम आम मुद्रा Dollar, Rupee की तरह देख या छू भी नहीं सकते हैं. यह एक ऐसी डिजिटल करेंसी है जो केवल Electronically  Store होती है. 

  बिटकॉइन एक विकेंद्रीकृत (Decentralized) डिजिटल मुद्रा है. इस करेंसी को Control करने के लिए कोई Authourity या Government  या कोई Bank नहीं है. यह वर्चुअल है इसे कोई भी खरीद सकता है।

  Bitcoin एक स्वतंत्र मुद्रा है जिस पर किसी व्यक्ति, संस्था या देश का अधिकार नहीं है. इस मुद्रा का कोई मालिक नहीं है. इसका इस्तेमाल केवल इंटरनेट के द्वारा ऑनलाइन / Electronically खरीद और हस्तांतरण के लिए किया जा सकता है।

  दुनिया में आभासी मुद्रा के रूप में बिटकॉइन के अलावा और भी कई आभासी मुद्राएँ मौजूद है जैसे- इथेरियम, रिपल, लिटेकॉइन, स्टीम, डैश, और डोजेकॉइन आदि. इनकी भी भौतिक उपस्थिति नहीं होती है इन आभासी मुद्राओं में बिटकॉइन सबसे लोकप्रिय है।

  कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय द्वारा वर्ष 2017 में कराये गए एक सर्वेक्षण के मुताबिक लगभग 2.9 से 5.8 मिलियन लोग आभासी मुद्रा का ऊपयोग कर रहे थे, एक अनुमान के मुताबिक भारत में फिलवक्त इसके 5 लाख से ज्यादा उपयोगकर्ता हैं और प्रतिदिन 2500 लोग इसमे शामिल हो रहे हैं।

  "Bitcoin एक डिजिटल संपत्ति और एक भुगतान प्रणाली की मुद्रा है जिसका आविष्कार अभियंता सातोशी नकामोतो (Satoshi Nakamoto) ने वर्ष 2008 में किया था और 2009 में ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के रूप में इसे जारी किया गया था।" सातोशी का यह छद्म नाम है।

 पहले यह एक इलेक्ट्रोनिक मुद्रा के रूप में थी लेकिन 1 अगस्त 2017 से दो भागों में बंट गई Bitcoin (BTC) The Bitcoin Cash.

  "शब्द 'Bitcoin' और 'bitcoin' के बीच एक अंतर है। 'Bitcoin, जहाँ 'बी' (B) कैपिटल लेटर है, पूरे विश्व बाज़ार को संदर्भित करता है। दूसरी ओर, 'bitcoins, जहाँ 'बी' (b) छोटा है वास्तविक मुद्रा को प्रदर्शित करता है।" 

  Bitcoin को दर्शाने (denoted) के लिए BTC, mBTC, µBTC, Satoshi etc. Use किया जाता है। बिटकॉइन ये ओपन सोर्स है इस पर किसी का अधिकार नहीं है. इसे हर कोई Use कर सकता है जैसे इंटरनेट। 

  बिटकॉइन की कीमत Current Price :-  

  Bitcoin की कीमत हर देश में अलग-अलग होती है। अगर हम बिटकॉइन का आज का कीमत पता करें तो 1 बिटकॉइन की कीमत (January 2018) लगभग 11469.38 अमेरिकी डॉलर (US Dollar) और 729118.51 भारतीय रूपये (Indian Rupee) के बराबर है।

  बिटकॉइन की सबसे छोटी यूनिट Satoshi है और 1 बिटकॉइन = 10,00,00,000 (करोड़) Satoshi होती है।

  (Maximum Limitation Of Bitcoin =  2,10,00,000)

   बिटकॉइन की वितरण की सीमा मात्र 2,10,00,000 है, यानि कि कुल मिलाकर पुरे विश्व में 2,10,00,000 ही बनायें जायेंगे इसके बाद इसका उत्पादन बंद हो जाएगा. कुछ ऐसी मूलभूत प्रक्रियाएं है जो इसे जटिल बनाती है और अधिकृत व्यक्ति को इसे समझने के लिए तकनीकी जानकारी होना आवश्यक हो जाता है।  

  बिटकॉइन की कीमत कभी एक जैसी नहीं रहती है. हमेशा घटते बढ़ते रहती है. आपको आश्चर्य होगा कि वर्ष 2014 में 1 बिटकॉइन की कीमत 1000 अमेरिकी डॉलर से भी ऊपर चली गयी थी. आज Bitcoin का चलन विश्व बाज़ार में बहुत तेजी पर है. यह एक बहुत ही परिवर्तनशील मुद्रा है।

  अगर आपको Bitcoin का Current Price पता करना है तो आप गूगल पर 1 bitcoin to inr टाइप करके Search कर सकते है या फिर यहाँ क्लिक करके भी पता कर सकते हैं।



  बिटकॉइन को कैसे उपयोग (Use) करें ?  

  बिटकॉइन को आप Online ही उपयोग (Use) कर सकते हैं क्योंकि यह Electronically स्टोर होती है. बिटकॉइन से आप Online Shopping कर सकते हैं. पेमेंट Send या Receive कर सकते हैं।

  बिटकॉइन कैसे खरीदें?  

  अगर आप बिटकॉइन खरीदना चाहते हैं तो इसे Store करने के लिए आपको डिजिटल वॉलेट की आवश्यकता पड़ेगी।

  बिटकॉइन वॉलेट (Bitcoin Wallet) क्या है ?  

  अब जैसा की आपने जाना कि बिटकॉइन Electronically ही स्टोर होती है, तो इसे स्टोर करने के लिए हमें इंटरनेट पर उपलब्ध डिजिटल वॉलेट का इस्तेमाल करना होगा. इंटरनेट पर बहुत सारे Application, Software और Cloud-Based Wallet हैं जिनमें आप Account बनाकर बिटकॉइन को स्टोर कर सकते हैं. यहाँ पर कुछ Exchange दिए जा रहे हैं जिन्हें आप बिटकॉइन (डिजिटल) वॉलेट के तौर पर Use कर सकते है - 



       
  बिटकॉइन Address क्या है ?  

  आप जब बिटकॉइन (डिजिटल) वॉलेट में Account बनाते हो तो सर्विस प्रोवाइडर द्वारा आपको एक बिटकॉइन Address दिया जाता है यह बिटकॉइन Address एक प्रकार से यूनिक Cryptographic Code होता है इसे हम अपने बैंक अकाउंट नंबर की तरह मान सकते हैं आप इस बिटकॉइन Address के द्वारा ही लेन-देन करने में सक्षम हो पाते हैं।

  बिटकॉइन की कार्य प्रणाली :- (System Of  Bitcoin)  

  बिटकॉइन Peer-To-Peer Based Network पर कार्य करता है मतलब कि इसमें Directly Transaction होता है. कोई भी व्यक्ति एक दूसरे से डायरेक्ट लेन-देन कर सकते हैं इसके लिए किसी बैंक, क्रेडिट कार्ड जैसे माध्यम की जरूरत नहीं पड़ती. बिटकॉइन के द्वारा लेन-देन करना काफ़ी आसान है और तेज भी।

  बिटकॉइन पारंपरिक मुद्राओं के विपरीत किसी देश या बैंक से संबद्ध नहीं होता है और न ही इसका कोई भंडार होता है. बिटकॉइन Transaction Ledger पर कार्य करता है जिसे इसके उपयोगकर्ता संयुक्त रूप से नियंत्रित करते हैं और इसके बही को कूटलेखन (Cryptographic) तकनीक के जरिये जांचा व परखा जाता है. इसके लेन-देन के लिए डिजिटल रूप से हस्ताक्षर किये गए संदेश को प्रसारित किया जाता है, जिसकी सत्यता की जाँच विश्व भार में फैले कंप्यूटर विकेंद्रीकृत नेटवर्क के जरिये की जाती है. देखा जाये तो बिटकॉइन का लेन-देन पूरी तरह से आपसी समझ व विश्वास पर आधारित है, जिसका लेन-देन वेबसाइट पर किया जाता है जो यूज़र के बीच सीधे होता है अर्थात् इसके लेन-देन में बिचौलिए की कोई भूमिका नहीं होती है।

  'बिटकॉइन के साथ किये गए Transaction का हिसाब एक Account में रिकॉर्ड रहता है जिसे बिटकॉइन  Block-Chain कहा जाता है।'
जहाँ सार्वजनिक तौर पर सारे उपभोक्ता एक दूसरे के Account का Balance देख सकते हैं और यह जान सकते हैं कि किसके पास कितना बिटकॉइन हैं,लेकिन खाते में प्रवेश नहीं कर सकते।

  बिटकॉइन के फ़ायदे :-  

  • बिटकॉइन को आप दुनिया में कहीं भी बेच या खरीद सकते हैं. किसी को भी पैसे Send और Receive कर सकते हो, बिना किसी अवरोध के।
  • बिटकॉइन से लेन-देन करने की फीस अन्य माध्यमों के अपेक्षा काफी कम है।
  • ओपन सोर्स होने की वजह से इसे हर कोई Use कर सकता है।
  • High Security है।
  • अगर आप Bitcoin में Invest करते हैं तो इसकी कीमत (Price) बढ़ने पर आपको फायदा हो सकता है।

  बिटकॉइन के नुकसान / हानि :-  

  • Bitcoin को कंट्रोल करने के लिए कोई भी Authourity या Bank या Government नहीं है जिसकी वजह से इसकी कीमत कम या ज्यादा होते रहती है इसलिए इसमें Investment जोखिमपूर्ण हो सकता है
  • भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने भारत के लोगों को इस बारे में आगाह किया है कि बिना किसी रिसर्च के इसमें Invest ना करें अन्यथा आपका पूरा पैसा डूब सकता है और ऐसा हो जाने के बाद आप किसी से शिकायत भी नहीं कर सकते हो।
  • अगर आपका बिटकॉइन Account हैक हो जाता है तो आपके सारे बिटकॉइन बर्बाद हो जायेंगे और फिर इसमें कोई भी आपकी मदद नहीं कर पाएगा। 


  बिटकॉइन का न समर्थन, न वैधानिक मुद्रा   

  सरकार ने लोगों से बिटकॉइन सहित सभी आभासी मुद्राओं में निवेश नहीं करने की चेतावनी देते हुए कहा है कि वह न तो इसका समर्थन करती है और न ही यह वैधानिक मुद्रा है. वित्त मंत्रालय ने आभासी मुद्रा के बारे में जारी एक बयान में इसे पोंजी स्कीमों की तरह करार दिया और कहा कि आभासी मुद्रा को सरकार का कोई समर्थन प्राप्त नहीं है. इनमें कानूनी लेन-देन नहीं किया जा सकता, इसलिए आभासी मुद्रायें 'मुद्रा' के दायरे में नहीं आती. इनका उल्लेख 'सिक्कों' के रूप में भी किया जा रहा है, जबकि ये चलन वाले सिक्के नहीं है. इस आधार पर आभासी मुद्रा न तो सिक्का है और न मुद्रा. भारत सरकार या भारतीय रिज़र्व बैंक ने आभासी मुद्रा को लेन-देन के लिए अधिकृत नहीं किया है. सरकार या भारत में किसी भी प्राधिकार ने किसी भी एजेंसी को ऐसी मुद्रा के लिए लाइसेंस नहीं दिया है, इसलिए जो व्यक्ति आभासी मुद्रा में लेन-देन करता है, उसे इसके जोखिम के प्रति सावधान रहना चाहिए।


  अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ Social Media में  Share जरूर करें। 

Read also :-  




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

About | Contact | Privacy | Disclaimer | Sitemap | Copyright © 2017-2018 All Rights Reserved Hindi Tech Nature
Back to Top